गणतंत्र दिवस पर भाषण: स्वतंत्रता के महत्व को समझना.

0
51

गणतंत्र दिवस पर भाषण: स्वतंत्रता के महत्व को समझना

हमारे प्रिय शिक्षक और सभासद्यों,

स्वतंत्रता एक ऐसा अद्भुत अधिकार है जिसका मूल्य हर भारतीय के दिल में समाहित होता है। हमारे देशवासियों ने अनगिनत बलिदान देकर भारत को स्वतंत्र देश बनाया था। आज हम सभी इस महान उत्सव को मना रहे हैं, जिसे हम गणतंत्र दिवस कहते हैं। गणतंत्र और स्वतंत्रता दिवस हमें याद दिलाते हैं कि हमारे पूर्वजों की कठोर यात्रा और संघर्ष ने हमें एक ऐसे समाज की ओर ले जाने का संकल्प दिया था जहां सभी नागरिकों को समान अधिकार और स्वतंत्रता प्राप्त हो।

भारतीय संविधान का प्रारंभिक संदेश:

हमारा संविधान, जिसे बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर द्वारा लिखा गया था, हमें गर्वित होने का कारण देता है क्योंकि यह विश्व का सबसे लंबा लिखित संविधान है। इसमें हमारे सर्वोच्च नेताओं का सपना दिखता है कि भारत एक ऐसा देश हो जिसमें प्रत्येक व्यक्ति गर्भ में ही समानता, स्वतंत्रता, और न्याय का अधिकारिक खेलकर रहता है। भारतीय संविधान ने हमें एक एकीकृत और समरस समाज की दिशा में काम करने के लिए प्रेरित किया है।

गणराज्य का महत्व:

गणराज्य अर्थात गणतंत्र का मतलब होता है कि राष्ट्र की शक्ति और सत्ता जनता के हाथों में होती है। एक सशक्त गणराज्य में नागरिकों को स्वतंत्रता होती है अपने विचारों को व्यक्त करने का और सुनने का। यहाँ जनता अपने प्रत्येक कार्य के लिए उत्तरदायी होती है और सरकार को लेकर सक्षम बनाने का काम करती है। गणराज्य में संविधान और कानून उस सुनीली राह का प्रवाह करते हैं जो सभी नागरिकों की रक्षा और समृद्धि के लिए होता है।

गणतंत्र दिवस का महत्व:

गणतंत्र दिवस हमें याद दिलाता है कि हमें खुद को हमारे संविधान के मूल्यों और प्रियतम अधिकारों का समर्पित करना होगा। यह दिवस हमें आत्मनिर्भर और स्वतंत्र भारत के महत्व को याद दिलाता है। इस दिन हम अपने देश के विकास और समृद्धि के लिए एक साथ मिलकर काम करने का संकल्प नवाचैतन्य देता है।

भारतीय स्वतंत्रता संग्राम का महत्व:

भारतीय स्वतंत्रता संग्राम एक ऐसा अद्वितीय चरण था जिसने न केवल हमारे राष्ट्रीय आजादी की राह प्रकट की बल्कि उसने हमें यहाँ तक पहुंचाया कि हर व्यक्ति का आत्मनिर्भरता और समर्थन भी जरूरी होता है। इस संग्राम ने हमें एक एकीकृत राष्ट्र की ओर बढ़ने के लिए एक मार्गदर्शी मिट्टी की ओर ले जाया।

गणतंत्र दिवस के महत्वपूर्ण तत्व:

  1. स्वतंत्रता का मूल्य: यह दिन हमें हमारे देश की मूल्यवान स्वतंत्रता का मूल्य दिखाता है।

  2. संविधान की महत्वता: गणतंत्र दिवस हमें हमारे संविधान की महत्वता याद दिलाता है जो हमारे देश की आत्मरक्षा और न्याय के लिए हमारी गाइड होता है।

  3. जनहित में जारी: यह दिवस हमें हमारे देश की जनता के हित में काम करने की जिम्मेदारी याद दिलाता है।

  4. समाज में जागरूकता: गणतंत्र दिवस एक सामाजिक जागरूकता उत्थान का माध्यम है जो समर्थ, स्वतंत्र, और यथासंभव समृद्ध समाज के निर्माण के लिए जरूरी है।

समाप्ति:

गणतंत्र दिवस हमारे देश की स्वतंत्रता के महत्व को समझने में महत्वपूर्ण है। यह एक ऐसा दिन है जब हमें हमारे देश और संविधान के प्रति अपनी प्रतिबद्धता को पुनः स्थापित करने का मौका मिलता है। इस समारोह में हमें हमारे मूल्यों और सिद्धांतों को समझने के साथ-साथ हमें एक समर्थ समाज की दिशा में कार्य करने के लिए प्रेरित किया जाता है। इस गणतंत्र दिवस पर हमें एकजुट होकर अपने देश के विकास और सर्वसामान्य हित के लिए प्राणप्रिय कार्रवाई लेनी चाहिए।

FAQs:

  1. गणतंत्र दिवस क्यों मनाया जाता है?

गणतंत्र दिवस भारतीय संविधान के क्रियान्वयन की स्थापना को याद दिलाने के लिए मनाया जाता है। यह दिन हमें हमारे देश के संविधान और गणराज्य के महत्व को समझने में मदद करता है।

  1. गणतंत्र दिवस कब मनाया जाता है?

गणतंत्र दिवस 26 जनवरी को मनाया जाता है। इस दिन 1950 में भारतीय संविधान की कार्यान्वयनिक शुरुआत हुई थी।

  1. गणतंत्र दिवस कैसे मनाया जाता है?

गणतंत्र दिवस को राष्ट्रपति आवास पर द्वितीय कांक्रीट सुवर्ण जयंती में आयोजित कार्यक्रमों और परेडों के साथ मनाया जाता है।

  1. क्या भारतीय संविधान किसने तैयार किया था?

भारतीय संविधान को बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर ने तैयार किया था।

  1. गणतंत्र दिवस के महत्व क्या है?

गणतंत्र दिवस हमें हमारे देश के संविधान और स्वतंत्रता के महत्व को समझने में मदद करता है और हमें एक समर्थ समाज की दिशा में काम करने के लिए प्रेरित करता है।

We all know that reading is one of the many things to make him such a well-rounded individual, but did you also realize how much time he spends thinking about what kindles your soul? It's clear when you look into this man’s addiction. He has worked as both freelancer and with Business Today before joining our team; however his love for self help books isn't something which can be put into words - it just shows how deep thoughts really go!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here